दोस्तों इस लेख में हम अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण के बारे में बात करेंगे सामान्यतः हर महिला के पीरियड आने के 14 वे दिन अंडे का फटना या ओवुलेशन की प्रक्रिया होती है इस प्रक्रिया में महिला की गर्भावस्था से अंडा निकलकर उसके फेलोपियन ट्यूब में चला जाता है शरीर में चल रहे इस घटनाक्रम को ओवुलेशन पीरियड या सामान्य भाषा में गर्भधारण का सही समय कहते हैं इसमें में अगर महिला संभोग(sex) करती है तो उसके प्रेग्नेंट होने की चांस बहुत बढ़ जाते हैं अब हर महिला को उत्सुकता बनी रहती है कि वह प्रेग्नेंट है या नहीं अगर महिलाओं को उल्टी आना,खट्टा खाने का मन करना ,चक्कर आना इत्यादि लक्षण होते हैं तो यह सब लक्षण अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण है अर्थात प्रेगनेंसी या सामान्य भाषा में बोले तो गर्भ ठहरने के लक्षण है इन सभी लक्षणों के बारे में आइए इस लेख में विस्तार से जानते हैं

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण


अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण  |pregnancy symptoms In Hindi

  • उल्टी आना
  • चक्कर आना
  • थकान महसूस होना
  • सिर दर्द होना
  • सर्विकल म्यूकस में बदलाव
  • स्तनों के आकार में बदलाव
  • खाने की इच्छा में बदलाव
  • बार-बार पेशाब आना
  • पेशाब के रंग में बदलाव
  • मूड में बदलाव
  • कमर में दर्द होना
  • यौन क्रिया की इच्छा होना
  • मॉर्निंग सिकनेस होना
  • कब्ज व गैस
  • शरीर का तापमान बढना
  • पेट में मरोड़ आना
  • स्वाद व गंध में बदलाव
  • पीरियड्स ना आना

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-उल्टी आना

अंडा फटने के बाद अगर महिला को बार बार उल्टी आने का महसूस होता है तो यह गर्भावस्था का लक्षण हो सकते है। और महिला  हो सकती है।

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-चक्कर आना


महिला के प्रेग्नेंट होने से बहुत से हार्मोन बदलाव होते हैं जिससे प्रेग्नेंट महिलाओं को चक्कर आने लग जाते हैं। अंडा फटने के बाद अगर महिला को बार-बार चक्कर आने की समस्या हो रही है तो महिला में प्रेग्नेंट होने का लक्षण है यदि आपको भी यह समस्या हो रही है तो प्रेगनेंसी टेस्ट जरूर करवाएं।

प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण: symptoms of pregnancy in Hindi


अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-थकान महसूस होना

अंडा फटने के बाद अगर आपको दिनभर थकान महसूस होती है तो यह गर्भावस्था होने का लक्षण है। महिलाओं को ज्यादा देर खड़े रहने में दिक्कत होने लगती है और वह थोड़ा सा काम करने के बाद थकान महसूस करने लगती है और आराम करने का मन करता है ये लक्षण महिलाओं में प्रेग्नेंट होने के बाद हार्मोन चेंज के कारण दिखाई देने लगते हैं। 

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-सिर दर्द होना

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण | pregnancy symptoms

अंडा फटने के बाद महिला प्रेग्नेंट होती है तो शुरुआती दिनों में महिला में सिर दर्द होने की समस्या होने लगती है सिर में दर्द होना ब्लड लेवल बढ़ने के कारण होता है जैसे-जैसे प्रेगनेंसी के दिन बढ़ते जाते है वैसे वैसे सिर दर्द कम होने लगता है। अगर आपका सिर में दर्द होता है हो सकता को आप pregent हो 

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-स्तनों के आकार में बदलाव


प्रेग्नेंट होने के बाद महिलाओं के स्तनों के आकार में बहुत ज्यादा बदलाव आता है प्रेग्नेंट महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाने के कारण स्तनों में सूजन आने लगती है व ब्रेस्ट में दर्द महसूस होने लगता है और निप्पल के आसपास रंग में परिवर्तन होने लगता है व निप्पल का रंग गहरा होने लगता है।

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-खाने की इच्छा में बदलाव

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण | pregnancy symptoms

अंडा फटने के बाद जब महिलाएं प्रेग्नेंट होती है तो उनके खाने की इच्छा बदल जाती है और उनको अलग-अलग खाना खाने का मन करता है। और महिला की खाने की इच्छा भी बढ़ जाता है। जिससे प्रेगनेंट महिला की डाइट भी बढ़ जाती है और उनका मन कुछ खास व अलग खाने का मन करता है प्रेग्नेंट महिलाओं को बाहर की चीजें खाने से परहेज करना चाहिए खासकर जंक फूड से।


अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-मूड में बदलाव


अचानक मूड में बदलाव आना प्रेगनेंसी का लक्षण है ओवुलेशन पीरियड के बाद महिला के मूड में बदलाव आता है तो यह अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण में से एक है

अगर आप को कोई चीज अच्छी लग रही है और थोड़ी देर में वह उस चीज को नापसंद कर देती है प्रेग्नेंट होने के कारण अचानक ही मूड में बदलाव आ रहा है तो यह लक्षण प्रेग्नेंट होने का लक्षण है।

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-बार-बार पेशाब आना


अंडा फटने के बाद प्रेग्नेंट महिला में हार्मोन बदलाब की वजह से गर्भाशय में सूजन होने के कारण मुत्राशय पर दाब पड़ता है जिससे बार-बार पेशाब आता है। बार-बार पेशाब आना भी गर्भावस्था का लक्षण है।

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-पेशाब के रंग में बदलाव

अंडा फटने के बाद जब महिलाएं प्रेग्नेंट होती है तो महिला के पेशाब का रंग पीला होने लगता है। प्रेग्नेंट होने के कारण महिला की किडनी पेशाब को अच्छी तरह फिल्टर नहीं कर पाती है इसलिए प्रेग्नेंट महिला के पेशाब का रंग परिवर्तित होने लगता है।
अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण | pregnancy symptoms


अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-सर्विकल म्यूकस में बदलाव

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण | pregnancy symptoms


गर्भाशय के ग्रीवा से निकलने वाला चिपचिपा पदार्थ को म्यूकस कहते हैं ओवुलेशन पीरियड के समय यदि महिला ने गर्व का धारण कर लिया है यानी प्रेग्नेंट हो गई है तो सर्विकल म्यूकस फ्लूड में बदलाव आ जाता है ये थोड़ा पतला और गहरा सफेद या पीला हो जाता है सामान्यतः महिलाएं के लिए सर्विकल म्यूकस को देखकर अपनी प्रिगेंसी का अंदाजा लगाना थोड़ा मुश्किल है


अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-कमर में दर्द होना

अंडा फटने के बाद अगर महिला प्रेग्नेंट है तो महिला की कमर में दर्द होना शुरू हो जाएगा। कमर में दर्द होना भी गर्भावस्था का लक्षण है प्रेग्नेंट महिला की रीड की हड्डी पर दबाव पड़ता है जिसे कमर दर्द होने लगती है वह प्रेगनेंसी के दौरान अस्थि बंध खुल जाते हैं जिससे कमर में दर्द होना शुरू हो जाता है।

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-यौन क्रिया की इच्छा होना


ओवुलेशन पीरियड के दौरान अगर महिला प्रेगनेंट हो गई है तो इस समय महिला के गर्भाशय में अंडाणु और पुरुष के शुक्राणु के बीच फर्टिलाइजेशन की क्रिया होती है इस फर्टिलाइजेशन के बाद महिला के यौन क्रिया करने की इच्छा बढ़ जाती है और उसका मन सामान्य से ज्यादा संभोग करने को करता है तो यह महिला के प्रेग्नेंट होने का प्रमुख लक्षणों में से एक है

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-मॉर्निंग सिकनेस होना


ओवुलेशन पीरियड में अगर आपने सेक्स किया है तो आप गर्भवती हो सकती है और इस पीरियड के बाद आपको मॉर्निंग सिकनेस हो सकती है मॉर्निंग सिकनेस में आपका मन बिस्तर से उठने नहीं करता है और पूरे दिन शरीर में सुस्ती जैसा रहता है जिससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आप की पीरियड से पहले प्रेगनेंसी के लक्षण है

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-कब्ज व गैस का होना

अगर ओवुलेशन के दौरान महिला गर्भ का धारण कर लेती है तो उसके हार्मोन के स्तर में बदलाव होने लगता है जिसकी वजह से पेट मे गैस का बनना,खाना न पचना,कब्ज होना जैसी शिकायत होने लगती है क्योंकि आपके गर्भ में फर्टिलाइजेशन होने के कारण एक भ्रूण का विकास हो रहा है

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-शरीर के टेंपरेचर में बदलाव

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण | pregnancy symptoms

शरीर के तापमान में बदलाव होना अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के सामान्य लक्षणों में से प्रमुख लक्षण है अगर ओवुलेशन पीरियड के दौरान आपने गर्भ का धारण कर लिया है तो आपके शरीर का तापमान सामान्य से ज्यादा हो जाता है क्योंकि इस समय आपके शरीर में तेजी से हार्मोन चेंज हो रहे हैं जिसकी वजह से आपके शरीर का तापमान बढ़ जाता है और आप को फीवर जैसा महसूस होता है


अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-पतला टॉयलेट आना


ओवुलेशन पीरियड के दौरान अगर आप प्रेग्नेंट हो गई हैं तो आपकी बॉडी में कुछ हार्मोन बदलाव होते हैं जिसकी वजह से आपको कब्ज, गैस ,बार-बार टॉयलेट आना या पतली टॉयलेट आना जैसी समस्या हो सकती है आम भाषा में जिसे हम मरोड़ भी कह सकते हैं

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-स्वाद व गंध में बदलाव


महिला की टेस्ट में स्मेल में बदलाव होना अंडा फटने की गर्भावस्था के लक्षण में से सामान्य लक्षणमें से एक है इसका कारण एस्ट्रोजन हार्मोन का बढ़ना है जिसके कारण आपके स्मेल और मुंह का टेस्ट बदल जाता है तो आप प्रेगनेंसी के लक्षण समझ सकती है

अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण-पीरियड ना आना


पीरियड्स ना आना प्रेग्नेंट होने का अहम लक्षण है महिलाओं में हर महीने पीरियड आते हैं अगर किसी महिला के पीरियड मिस हो गए हैं तो वह प्रेग्नेंट हो सकती है। महिला प्रेग्नेंट होने के बाद पीरियड्स आने बंद हो जाते हैं

1 सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण |1 week pregnancy symptoms in hindi


सामान्यतः प्रेगनेंसी के लक्षण ओवुलेशन या सामान्य भाषा में कहे जाने वाला शब्द अंडा फटने के 1 सप्ताह में ही दिखने लगते हैं जिन्हे 1 week pregnancy symptoms कहते है पहले सप्ताह गर्भावस्था के लक्षणों में उल्टी आना,जी मचलना, चक्कर आना ,मरोड़ लगना, मॉर्निंग सिकनेस इत्यादि कई लक्षण शामिल है लेकिन कहीं कम जानकारी और कहीं झिझक के कारण इस समय लगभग महिलाएं कंफ्यूज सी रहती है कि वह गर्भ का धारण कर चुकी है या नहीं ओवुलेशन के बाद यानी पीरियड आने से पहले प्रेगनेंसी के लक्षण आसानी से दिखने लगते हैं जिनका विस्तार पूर्वक जिक्र हमने ऊपर लेख में किया है

ओवुलेशन के बाद क्या नहीं करना चाहिए


अंडा फटने या ओवुलेशन के बाद अगर आप गर्भ का धारण नहीं करना चाहती हैं तो आपको ओवुलेशन पीरियड में संभोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्योंकि ओवुलेशन पीरियड में प्रेग्नेंट या गर्भधारण होने की संभावना अत्याधिक होती है ओवुलेशन के बाद अगर आप संभोग(sex) करना चाहती हैं तो गर्भनिरोधक चीजों जैसे कंडोम आदि का उपयोग करके कर सकते हैं जिनसे आप गर्भवती नही होगी

ओवुलेशन के बाद क्या नहीं खाना चाहिए


अगर महिला को ओवुलेशन के बाद अपने आप में अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण नजर आते हैं तो उसे ऐसी चीजें नहीं खानी चाहिए जिन की तासीर गर्म है गर्म तासीर की चीजें जैसे कच्चा अंडा, पपीता ,अनानास, एलोवेरा जूस, सहजन की फली आदि गर्म तासीर के होते हैं इनके खाने से आपकी ब्लडिंग चालू हो सकती है या सामान्य भाषा में बोले तो बच्चा गिर सकता है

अंडा फटने के बाद कितने दिन हम गर्भवती प्राप्त करने की कोशिश कर सकते हैं


अंडा का फटना या ओवुलेशन की प्रक्रिया पीरियड आने के 14वे दिन होती है कुछ डॉक्टर के अनुसार गर्भधारण करने के लिए 14 वे दिन से 2 दिन पहले लेकर 2 दिन बाद तक यानी अंतिम पीरियड आने के 12 वे दिन से 16 वे दिन तक आप गर्भ धारण का सही समय होता है 

FAQ

Q.पीरियड के कितने दिन बाद अंडा रिलीज होता है

Ansनॉर्मली पीरियड्स के 14 दिनों बाद अंडा रिलीज होता है और डॉक्टर्स के अनुसार अंडा रिलीज होने के बाद गर्भ धारण का सही समय होता है

Q.गर्भ ठहर गया है कैसे पता चलता है?
Ans सही और सटीक गर्भधारण का पता तो प्रेगनेंसी किट से ही लगा सकते हैं लेकिन अगर उपरोक्त लेख में बताएं लक्षण भी हो रहे हैं तो आप के गर्भ ठहरने के चांस हो सकते हैं 

Conclusion

इस लेख में आपको अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण के बारे जानकारी दी गई है जिसकी सहायता से आप पीरियड्स आने से पहले ही अपनी प्रिगेंसी को पहचान सकते हैं अगर आपको इस लेख से जुड़ी अन्य जानकारी चाहिए तो हमे कॉमेंट करके जरूर बताएं